Madhyapradesh

मध्य प्रदेश उपचुनाव: दमोह विधानसभा सीट पर शाम 5 बजे तक 56 प्रतिशत मतदान।

Written by [email protected]


न्यूज़ डेस्क, अमर उजाला, दमोह

द्वारा प्रकाशित: कुमार संभ
Updated Sat, Apr 17, 2021 3:17 pm IST

प्रतीकात्मक तस्वीर
– फोटो: अमर उजाला

खबर सुनिए

मध्य प्रदेश की दमोह विधानसभा सीट के लिए हुए उपचुनावों के अनुसार, शनिवार को शाम 5 बजे तक 56 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। मतदान शांतिपूर्ण तरीके से होता है और चुनाव आयोग द्वारा जारी कोविद -19 दिशानिर्देश सुनिश्चित किए जाते हैं। हालांकि, मतदान केंद्रों के बाहर मतदाताओं को लंबी लाइनों में खड़ा देखा गया।

2.39 लाख मतदाता अपने भाग्य का फैसला कर रहे हैं
राठी ने कहा कि वोट दोपहर सात बजे तक चलेगा। उन्होंने कहा कि इस सीट पर कुल 2.39 लाख मतदाता हैं, जिनमें पुरुषों के लिए 1.24 लाख, महिलाओं के लिए 1.15 लाख और आठ तीसरे लिंग के मतदाता हैं। कुल 359 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इस सीट पर दो महिलाओं सहित कुल 22 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं, जिनकी मुख्य दौड़ भाजपा के राहुल सिंह लोधी और कांग्रेस के अजय टंडन के बीच मानी जा रही है।

इस आंशिक विकल्प के कारण
लोधी 2018 के चुनाव में कांग्रेस के मतपत्र पर इस सीट से विधायक चुने गए थे, लेकिन पिछले साल अक्टूबर 2020 में एक विधायक के रूप में इस्तीफा दे दिया। फिर उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी और भाजपा में शामिल हो गए, जिससे सीट खाली हो गई। इस सीट के लिए मतों की गिनती दो मई को दमोह जिला मुख्यालय पर होगी।

विस्तृत

मध्य प्रदेश की दमोह विधानसभा सीट के लिए हुए उपचुनावों के अनुसार, शनिवार को शाम 5 बजे तक 56 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। मतदान शांतिपूर्ण तरीके से होता है और चुनाव आयोग द्वारा जारी कोविद -19 दिशानिर्देश सुनिश्चित किए जाते हैं। हालांकि, मतदान केंद्रों के बाहर मतदाताओं को लंबी लाइनों में खड़ा देखा गया।

2.39 लाख मतदाता अपने भाग्य का फैसला कर रहे हैं

राठी ने कहा कि वोट दोपहर सात बजे तक चलेगा। उन्होंने कहा कि इस सीट पर कुल 2.39 लाख मतदाता हैं, जिनमें पुरुषों के लिए 1.24 लाख, महिलाओं के लिए 1.15 लाख और आठ तीसरे लिंग के मतदाता हैं। कुल 359 मतदान केंद्रों को सक्षम किया गया है। इस सीट पर दो महिलाओं सहित कुल 22 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं, जिनकी मुख्य दौड़ भाजपा के राहुल सिंह लोधी और कांग्रेस के अजय टंडन के बीच मानी जा रही है।

इस आंशिक विकल्प के कारण

लोधी 2018 के चुनाव में कांग्रेस के मतपत्र पर इस सीट से विधायक चुने गए थे, लेकिन पिछले साल अक्टूबर 2020 में एक विधायक के रूप में इस्तीफा दे दिया। फिर उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी और भाजपा में शामिल हो गए, जिससे सीट खाली हो गई। इस सीट के लिए मतों की गिनती दो मई को दमोह जिला मुख्यालय पर होगी।





Source by [author_name]

About the author

Leave a Comment