Cricket

IPL 2021: ईशान किशन- 47 दिन में टीम इंडिया के स्टार बनने और मुंबई इंडियंस से बाहर होने की कहानी

Written by [email protected]


2021 आईपीएल: ईशान किशन मौजूदा सत्र में एक भी अर्धशतक नहीं बना सके।

2021 आईपीएल: ईशान किशन मौजूदा सत्र में एक भी अर्धशतक नहीं बना सके।

मुंबई इंडियंस (MI) ने IPL 2021 (IPL 2021) के अपने छठे मैच (MI बनाम RR) ​​में इशान किशन (इशान किशन) को गेम 11 से बाहर कर दिया। टीम शुरुआती 5 में से केवल 2 ही जीत पाई है।

नई दिल्ली। पांच बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस (आईएम) मौजूदा आईपीएल 2021 सत्र में अच्छी शुरुआत नहीं कर पाई है। टीम ने शुरुआती 5 मैचों में से केवल 2 में जीत हासिल की है। लॉस्ट 3 टीम ने अपने छठे गेम (IM बनाम RR) ​​के लिए एक महत्वपूर्ण टीम परिवर्तन किया। विकेट कीपर हिटर इशान किशन को प्ले -11 में जगह नहीं मिली। उनकी जगह नाथन कूल्टर नाइल को लिया गया। ईशान किशन पिछले सीजन में टीम के प्रमुख स्कोरर थे। उन्होंने 14 मैचों में 4 अर्धशतकों के साथ 516 रन बनाए। औसत 57 था और स्ट्राइक रेट 146 था। लेकिन ईशान किशन मौजूदा सत्र के पहले 5 मैचों में कमाल नहीं कर सके। इस दौरान वह केवल 15. के औसत से 73 रन बनाने में सफल रहे थे। उनका सर्वोच्च स्कोर 28 रन था। यही नहीं, वह इस दौरान केवल 3 चौके और 2 छक्के ही लगा पाए थे। टी 20 डेब्यू में अर्धशतकीय पारी खेली झारखंड में राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने वाले ईशान किशन ने 14 मार्च को इंग्लैंड के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया। इस टी 20 मैच में, उन्होंने 32 गेंदों में 56 रन की आक्रामक पारी खेली। उन्होंने 5 चौके और 4 छक्के लगाए थे। इसके बाद, उन्हें टी 20 का बड़ा सितारा माना जाता था। वह मुंबई इंडियंस की ओर से आईपीएल में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे। लेकिन यह तात्कालिक क्रिकेट की सबसे बड़ी कमी है। यदि आप आकार खो देते हैं, तो टीम में वापस आना मुश्किल हो जाता है। इस साल देश में टी 20 विश्व कप भी आयोजित किया जाएगा। ऐसे में आईपीएल का प्रदर्शन काफी महत्वपूर्ण होगा।यह भी पढ़ें: IPL 2021: राजस्थान रॉयल्स ने कोविद राहत कोष में 7.5 करोड़ रुपये दिए, ऐसा करने वाली पहली फ्रेंचाइजी मुंबई ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है कोरोना के कारण, न तो टीम इस सीजन में घर पर खेल रही है। मुंबई इंडियंस इससे सबसे ज्यादा पीड़ित है। वानखेड़े मैदान को हिटर के लिए अनुकूल माना जाता था, लेकिन टीम को चेन्नई में शुरुआती खेल खेलना था। चेन्नई की पिच धीमी मानी जाती है और यहां स्कोर करना आसान नहीं है। मुंबई के खिलाड़ी इस दौरान रन बनाने के लिए संघर्ष करते नजर आए।






About the author

Leave a Comment