Madhyapradesh

इंदौर: राधास्वामी सत्संग ब्यास ने देश में दूसरा सबसे बड़ा कोविद केंद्र बनाया, 6,000 संक्रमित रह सकेंगे

इंदौर में बना राधास्वामी सत्संग ब्यास का कोविड सेंटर


न्यूज़ डेस्क, अमर उजाला, इंदौर

द्वारा प्रकाशित: सुरेंद्र जोशी
अपडेटेड शुक्र, 23 अप्रैल, 2021 09:58 अपराह्न IST

राधा स्वामी सत्संग ब्यास कोविद केंद्र इंदौर में स्थापित
– फोटो: ANI

खबर सुनें

अपने अनोखे सेवा कार्यों के कारण देश में लोकप्रिय राधास्वामी सत्संग ब्यास ने मध्य प्रदेश के इंदौर में दूसरा सबसे बड़ा कोविद केंद्र बनाया है। इसे मां अहिल्या कोविद केयर सेंटर का नाम दिया गया है। इसका उत्पादन जन सहयोग से किया गया है। इंदौर-खंडवा राजमार्ग पर बना यह केंद्र मध्य प्रदेश में ब्यास राज्य का सबसे बड़ा कोविद केंद्र है।

यह कोविद केयर सेंटर 600 बिस्तरों के साथ शुरू हुआ है और इसे भविष्य में अधिकतम 6 हज़ार 6 हज़ार बेड तक विस्तारित किया जा सकता है। यहां भर्ती संक्रमित लोगों के लिए सभी आवश्यक सुविधाएं जुटाई गई हैं। मरीजों के इलाज के लिए इंदौर के डॉक्टरों की टीमें बनाई गई हैं। राधा स्वामी ट्रस्ट से जुड़े स्वयंसेवक सेवा कार्य जारी रखेंगे।

विषम रोगियों को रखा जाएगा
यह केंद्र स्पर्शोन्मुख या कम कोरोना संक्रमित रोगियों को घर देगा। जिन रोगियों के घर में अलगाव की सुविधा नहीं है या जिनके पास नियमित चिकित्सा देखभाल नहीं है, उन्हें रखा जाएगा।

मरीजों को भर्ती करने के लिए यहां संपर्क करें
मां अहिल्या कोविद केंद्र में रोगियों को भर्ती करने के लिए, उन्हें 24 अप्रैल से शनिवार से शुरू होने वाले फोन नंबर 0731-2583838 पर सुबह 8 से 8 बजे तक संपर्क किया जा सकता है।

आपको बता दें कि मप्र और खासकर इंदौर में कोरोना संक्रमण ने भयानक रूप ले लिया है। शहर बंद होने के बाद भी, हाल के दिनों में 1,700 से अधिक नए रोगियों को प्राप्त करने की प्रक्रिया जारी है। वहीं, महामारी से मरने वालों की संख्या भी बढ़ रही है।

विस्तृत

अपने अनोखे सेवा कार्यों के कारण देश में लोकप्रिय राधास्वामी सत्संग ब्यास ने मध्य प्रदेश के इंदौर में दूसरा सबसे बड़ा कोविद केंद्र बनाया है। इसे मां अहिल्या कोविद केयर सेंटर का नाम दिया गया है। इसका उत्पादन जन सहयोग से किया गया है। इंदौर-खंडवा राजमार्ग पर बना यह केंद्र मध्य प्रदेश में ब्यास राज्य का सबसे बड़ा कोविद केंद्र है।

यह कोविद केयर सेंटर 600 बिस्तरों के साथ शुरू हुआ है और इसे भविष्य में अधिकतम 6 हजार 6 हजार बिस्तरों तक विस्तारित किया जा सकता है। यहां भर्ती संक्रमित लोगों के लिए सभी आवश्यक सुविधाएं जुटाई गई हैं। मरीजों के इलाज के लिए इंदौर के डॉक्टरों की टीमें बनाई गई हैं। राधा स्वामी ट्रस्ट से जुड़े स्वयंसेवक सेवा कार्य जारी रखेंगे।

विषम रोगियों को रखा जाएगा

यह केंद्र स्पर्शोन्मुख या कम कोरोना संक्रमित रोगियों को घर देगा। जिन रोगियों के घर में अलगाव की सुविधा नहीं है या जिनके पास नियमित चिकित्सा देखभाल नहीं है, उन्हें रखा जाएगा।

मरीजों को भर्ती करने के लिए यहां संपर्क करें

मां अहिल्या कोविद केंद्र में रोगियों को भर्ती करने के लिए, उन्हें 24 अप्रैल से शनिवार से शुरू होने वाले फोन नंबर 0731-2583838 पर सुबह 8 से 8 बजे तक संपर्क किया जा सकता है।

आपको बता दें कि मप्र और खासकर इंदौर में कोरोना संक्रमण ने भयानक रूप ले लिया है। शहर बंद होने के बाद भी, हाल के दिनों में 1,700 से अधिक नए रोगियों को प्राप्त करने की प्रक्रिया जारी है। वहीं, महामारी से मरने वालों की संख्या भी बढ़ रही है।





Source by [author_name]

Leave a Comment