Good Health

गर्मी में किसी ‘संजीवनी बूटी’ से कम नहीं है पुदीना, आपके फ्रिज में है न ? – Good Health

Written by [email protected]


(विवेक कुमार पांडेय)

गर्मियों में हलवा खाने के फायदे– गर्मियों में, कई फल और खाद्य पदार्थ हैं जो पूरी तरह से प्राकृतिक हैं और गर्मी को भी नियंत्रित करते हैं। लेकिन, आज मैं जो बात करने जा रहा हूं उसे ‘समर संजीवनी बूटी’ के नाम से भी जाना जाता है। केवल गर्मियों में ही नहीं, यह बारिश में भी उपयोगी है। मैं टकसाल के बारे में बात करने जा रहा हूं।

अद्भुत संगम:

जैसे ही यह दिखाई दिया टकसाल का नाम आया, न ही इसने आपके मुंह को पानी बना दिया। यह स्वाद, सुंदरता और धूप का एक स्थान है जो पूरी दुनिया में शायद ही कभी पाया जाता है। इसका एक लंबा शैल्फ जीवन भी है और किसी भी जलवायु में उगाया जा सकता है जहां नमी होती है। जितनी अधिक गर्मी बढ़ती है, उतना ही इसका प्रभाव बढ़ता है।इसे भी पढ़े – स्वास्थ्य एक सुगंधित स्वास्थ्य खजाना है, जो पोषण से भरा है।

भारत में प्राचीन इतिहास:

मिंट का भारत में बहुत पुराना इतिहास है। आपने पुदीना से संबंधित अपच की दवा का नाम भी सुना होगा। कई विज्ञापन टेलीविजन पर भी दिखाई देते हैं। यह इसके औषधीय गुणों को दर्शाता है। हमारे वेदों में कई स्थानों पर टकसाल का उल्लेख किया गया है। इसका मूल अभी भी यूरोप माना जाता है।

कई प्रकार हैं:

इसकी लगभग 30 प्रजातियां और 500 से अधिक प्रजातियां हैं। इसे पूरी दुनिया में उगाया और खाया जाता है। यह वास्तव में मेंथा वंश का एक पौधा है। पिपरमिंट और पुदीना एक ही नस्ल के हैं। यूरोप, अमेरिका, एशिया, अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया में विभिन्न प्रजातियों की खेती की जाती है।

उपयोग भी कई हैं:

इसका उपयोग कई दवाओं, सौंदर्य प्रसाधन, पेय, सुपारी और अन्य स्थानों में किया जाता है। पेट के साथ-साथ यह आपकी त्वचा के लिए भी बेहतर है। कई प्राचीन विकृति विज्ञान में पेपरमिंट का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। यह आपको हाइड्रेटेड रखने में बहुत मदद करता है।

अब कुछ बातूनी बातें:

बहुत सारी जानकारी है, लेकिन अब हम बहुत सारी बातें करते हैं। अगर गर्मियों में पुदीने की चटनी न हो तो खाना अपने आप अधूरा सा लगता है। मिंट कहीं से आया है, लेकिन इसकी सॉस भारत में पहली बार बनाई गई थी। अंग्रेज भारतीय चटनी के स्वामी थे। यहां तक ​​कि ‘चटनी’ शब्द भी ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी में दर्ज है। गोलगप्पे बिना पुदीने के पानी के नहीं खाए जा सकते!

तो आप अपने फ्रिज में टकसाल है, है ना? यहां तक ​​कि अगर कोई रेफ्रिजरेटर सुविधा नहीं है, तो इसकी जड़ों को पानी में भिगोया जा सकता है और जार में रखा जा सकता है, आदि। यह लंबे समय तक हरा रहता है। यदि आप एक यात्रा पर जा रहे हैं, तो बस इसे पानी की बोतल में रखें … यह फायदेमंद होगा।





Source link

About the author

Leave a Comment