Cricket

‘मोईन अली क्रिकेटर नहीं होते तो बन सकते थे आतंकी… ‘, तस्लीमा नसरीन का विवादित ट्वीट

Written by H@imanshu


मोइन अली और तस्लीमा नसरीन।  (फोटो: एएफपी / आर्काइव)

मोइन अली और तस्लीमा नसरीन। (फोटो: एएफपी / आर्काइव)

इंडियन प्रीमियर लीग में खेलने की तैयारी कर रहे मोइन अली अनावश्यक रूप से विवादों में घिर गए हैं। बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन ने मोइन अली को लेकर एक विवादित ट्वीट किया है।

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग में खेलने की तैयारी कर रहे मोइन अली अनावश्यक रूप से विवादों में घिर गए हैं। बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन ने मोइन अली को लेकर एक विवादित ट्वीट किया है। इस ट्वीट के बाद तस्लीमा की काफी आलोचना हो रही है। सोशल मीडिया पर ट्रोल होने के बाद तसलीमा को भी सफाई देनी पड़ी। इंग्लैंड के मोईन अली आईपीएल 2021 में चेन्नई सुपर किंग्स टीम से जुड़े हैं। चेन्नई की टीम ने उन्हें इस साल अपने टीम में शामिल किया है।

तस्लीमा नसरीन ने सोमवार को ट्वीट किया, “अगर मोइन अली क्रिकेट नहीं खेल रहे होते, तो वह ISIS में शामिल होने के लिए सीरिया चले जाते।” इस ट्वीट के तुरंत बाद तस्लीमा को तीखी प्रतिक्रियाएं मिलनी शुरू हो गईं। कुछ ने उन्हें कट्टर कहा और कुछ उपयोगकर्ताओं ने कहा कि तस्लीमा को विवाद में रहने की आदत है। यही कारण है कि आपने जानबूझकर ऐसा ट्वीट किया है।

तसलीमा नसरीन का ट्वीट।

तसलीमा नसरीन का ट्वीट।

इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर रेयान साइडबॉटम ने तस्लीमा नसरीन को ट्वीट डिलीट करने की सलाह दी। उन्होंने लिखा: ‘मुझे लगता है कि आपको जांचना चाहिए कि क्या आप अच्छा महसूस करते हैं या नहीं। बेहतर होगा कि आप अपना अकाउंट डिलीट कर दें। विवाद बढ़ने पर तस्लीमा नसरीन को इस मुद्दे को स्पष्ट करना पड़ा। उन्होंने कहा: ‘नफरत फैलाने वालों को पता है कि मोइन के बारे में ट्वीट एक व्यंग्य था। यह एक समस्या बन गई क्योंकि मैं मुस्लिम समाज में धर्मनिरपेक्षता फैलाना चाहता हूं। मैं इस्लामिक कट्टरवाद का विरोधी हूं।

आपको बता दें कि ऑस्ट्रेलियाई कमेंटेटर डीन जोन्स ने एक बार दक्षिण अफ्रीका से हाशिम अमला को आतंकवादी करार दिया था। इसके बाद उन्हें कमेंट्री टीम से हटा दिया गया। जोन्स ने इसके लिए माफी भी मांगी।






About the author

H@imanshu

Leave a Comment