Bhopal

भोपाल ऑक्सीजन की कमी: गुजरात संकट में 100 से अधिक अस्पतालों की आपूर्ति करता है

Written by H@imanshu


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, भोपाल

द्वारा प्रकाशित: गौरव पांडे
Updated Wed, Apr 7, 2021 4:58 PM IST

खबर सुनिए

कोरोना वायरस के संक्रमण से पीड़ित मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल को भी ऑक्सीजन की कमी का सामना करना पड़ रहा है। गुजरात में राजधानी को तरल (तरल) ऑक्सीजन की आपूर्ति बंद हो गई है। जानकारी के अनुसार, पिछले छह दिनों से गुजरात से भोपाल तक कोई भी तरल ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं हुई है।

शहर के विक्रेताओं का कहना है कि गुरुवार तक ऑक्सीजन उपलब्ध नहीं होने पर 100 से अधिक अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी हो जाएगी। बता दें कि भोपाल को गुजरात से अब तक 80 से 100 टन ऑक्सीजन मिलती रही है। गुजरात की ऑक्सीजन आपूर्ति को रोकने के बाद, कलेक्ट अविनाश लवानिया जिले ने उद्योगों को ऑक्सीजन की आपूर्ति पर प्रतिबंध लगा दिया।

उन्होंने कहा है कि वर्तमान में शहर के सभी ऑक्सीजन संयंत्र समर्पित अस्पतालों में केवल कोविद की आपूर्ति करते हैं। बताते हैं कि जिला कलेक्टर ने सख्त निर्देश दिए हैं कि शहर के सभी ऑक्सीजन संयंत्र 24 घंटे चालू रहना चाहिए और पहले अस्पतालों और फिर उद्योगों को तरल ऑक्सीजन की आपूर्ति करनी चाहिए।

कोरोना वायरस के संक्रमण से पीड़ित मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल को भी ऑक्सीजन की कमी का सामना करना पड़ रहा है। गुजरात में राजधानी को तरल (तरल) ऑक्सीजन की आपूर्ति बंद हो गई है। जानकारी के अनुसार, पिछले छह दिनों से गुजरात से भोपाल तक कोई भी तरल ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं हुई है।

शहर के विक्रेताओं का कहना है कि गुरुवार तक ऑक्सीजन उपलब्ध नहीं होने पर 100 से अधिक अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी हो जाएगी। बता दें कि अभी तक भोपाल को गुजरात से 80 से 100 टन ऑक्सीजन मिल रही थी। गुजरात की ऑक्सीजन आपूर्ति को रोकने के बाद, कलेक्ट अविनाश लवानिया जिले ने उद्योगों को ऑक्सीजन की आपूर्ति पर प्रतिबंध लगा दिया।

उन्होंने कहा है कि वर्तमान में शहर के सभी ऑक्सीजन संयंत्र समर्पित अस्पतालों में केवल कोविद की आपूर्ति करते हैं। बताते हैं कि जिला कलेक्टर ने सख्त निर्देश दिए हैं कि शहर के सभी ऑक्सीजन संयंत्र 24 घंटे चालू रहना चाहिए और पहले अस्पतालों और फिर उद्योगों को तरल ऑक्सीजन की आपूर्ति करनी चाहिए।





Source by [author_name]

About the author

H@imanshu

Leave a Comment